englishkitab
An easy Way to learn English
Englishkitab >> Day To Day English >> DTDE >> DTDE-18-P4



DTDE-18

Hindi-English Sentences used in Daily Conversation

ये सामान्य वाक्य हैं जिनका उपयोग हम अपनी दैनिक बातचीत में करते हैं। कृपया उन्हें बारंबार पढ़ें, उन्हें समझने की कोशिश करें और अपनी दैनिक बातचीत में उनका उपयोग करें।

These are the common sentences that we use in our daily conversations. Please read them again & again, try to understand them and use them in your daily conversations.

भरोसे का घटक (भरोसा) आजकल सबसे कम मिलने वाली चीजो में से एक है । Faith factor is one of the rarest things available nowadays.
हम अपने बच्चो को ईमानदार होना और भला होना सिखाते है परंतु उनके सामने उस तरीके से व्यवहार नही करते । We teach our children to be honest and well, but do not behave that way in front of them.
टीचर्स बच्चों को पढ़ाते है की झूठ नही बोलना परंतु अक्सर उनके सामने झूठ बोलते है । Teachers teach children not to tell a lie but often tell lies in front of them.
शायद बच्चे सीखने में भ्रमित हो जाते है की क्या सही है और क्या गलत है । Probably children get confused about learning what is right and what is wrong?
जब वह बच्चा बड़ा होता है, वह उस तरीके से व्यवहार करता है जो उसने अपने बचपन में मिली सीख/उपदेश से ग्रहण किया । When the child becomes major, he behaves the way he had perceived from the teaching/preaching got in his childhood.
उसकी योग्यता और स्वभाव उसे रास्ते का चुनाव करने में प्रभावित करते हैं । His ability and nature infuse him to select his path.

उस बच्चे का दोष नही है । It is not a fault of that child.
दोष सोसाइटी में है जो अपनी अगली पीढी को पाल रही है । The fault lies among the society who is bringing up the next generation.
अगर हम सभी भले हों और वह करें जो हम हमारी नई पीढी को सिखाते है या उपदेश देते हैं, मुझे विश्वास है हमारी अगली पीढी में 100% विश्वास का घटक (भरोसे का तत्व) होगा । If we all are fare and do what we teach or preach our young generation, I am sure our next generation will have 100% faith factor in them.
वरिष्ठों का आदर्श व्यवहार एक आदर्श समाज का निर्माण कर सकता है। The ideal behaviour of seniors can create an ideal society.
आइये हम शपथ ले की हम उसी तरह व्यवहार करेंगे, जो हम अपने बच्चो को सिखाते और उपदेश देते है । Let us take a pledge that we will behave the way we teach and preach our children.
जैसा बोओगे वैसा काटोगें । As you sow so shall you reap?

Page Links : See >> Current Page DTDE-18-P4 >> DTDE-19

1 2 3 4


 
Home : Sitemap : Privacy : Feedback

All Rights are reserved.