englishkitab
An easy Way to learn English
Englishkitab >> Day To Day English >> DTDE >> DTDE-10-P2



DTDE-10

Hindi-English Sentences used in Daily Conversation

ये सामान्य वाक्य हैं जिनका उपयोग हम अपनी दैनिक बातचीत में करते हैं। कृपया उन्हें बारंबार पढ़ें, उन्हें समझने की कोशिश करें और अपनी दैनिक बातचीत में उनका उपयोग करें।

These are the common sentences that we use in our daily conversations. Please read them again & again, try to understand them and use them in your daily conversations.

अचानक हृदय रोगी की हालत बिगड़ गई। Suddenly the condition of the heart patient worsened.
डॉक्टर ने खतरे का संकेत किया और मरीज को एमर्जेन्सी वॉर्ड में ले आया। The doctor raised the alarm and brought the patient in the Emergency Ward.
सभी दूसरे मरीज डॉक्टर का इंतजार कर रहे थे। All other patients were waiting for the doctor.
सहायक मरीजो को शांत रहने और डॉक्टर का इंतजार करने की सलाह दे रहा था। The assistant was advising the patients to be calm and to wait for the doctor.
मैं घर आया और सो गया। I came home and slept.
मैंने एक सपना देखा। I saw a dream.
मैं जंगल में घूम रहा था। I was roaming in a forest.
सभी प्रकार के जानवर और पक्षी थे वहां। All kinds of animals and birds were there.
बंदर एक पेड़ से दूसरे पेड़ पर कूद रहे थे। Monkeys were jumping from one tree to another.
खरगोश इधर उधर दौड़ रहे थे। Rabbits were running here and there.

कोई भी किसी को चोट पहुंचाने का प्रयास नही कर रहा था। No one was trying to hurt anyone.
शेर जंगल का राजा था। The lion was the king of the forest.
मैं और जंगल की गहराई में आगे बढ़ा। I moved further deep in the forest.
उस समय बरसात हो रही थी। That time, it was raining heavily.
मैंने एक हाथी देखा। हाथी एक झोंपड़ी के सामने खड़ा था। I saw an elephant. The elephant was standing in front of a hut.
हाथी झोंपड़ी के मालिक को झोंपड़ी के अंदर आने की आज्ञा देने के लिये निवेदन कर रहा था। The elephant was requesting the owner of the hut to allow it to enter the hut.
आदमी ने जवाब दिया की हाथी के लिये वहां जगह नही थी। The man replied that there was no room for the elephant.
तब हाथी ने निवेदन किया की केवल उसकी सूँड को झोंपड़ी के अंदर आने दे। Then the elephant requested to let only his trunk inside the hut.
मालिक तेज था। उसने हाथी की चतुराई को सूंघ लिया। उसने हाथी को सूँड के लिये भी इजाजत नही दी। The owner was smart. He smelled the cunningness of the elephant. He did not allow the elephant even for its trunk.
मैं एक पेड़ के नीचे खड़ा था और उनके वार्तालाप का आनंद ले रहा था। I was standing under a tree and enjoying their conversations.

Page Links : See >> Current Page DTDE-10-P2 >> Next

1 2 3


 
Home : Sitemap : Privacy : Feedback

All Rights are reserved.